Must read Funny Hindi Poem

महामूर्ख दरबार में, लगा अनोखा केस फसा हुआ है मामला,
अक्ल बङी या भैंस
अक्ल बङी या भैंस,
दलीलें बहुत सी आयीं महामूर्ख दरबार की अब, देखो सुनवाई

●मंगल भवन अमंगल हारी- भैंस सदा ही अकल पे भारी

●भैंस मेरी जब चर आये चारा- पाँच सेर हम दूध निकारा

●कोई अकल ना यह कर पावे-चारा खा कर दूध बनावे

●अक्ल घास जब चरने जाये- हार जाय नर अति दुख पाये

●भैंस का चारा लालू खायो- निज घरवारि सी.एम. बनवायो

●तुमहू भैंस का चारा खाओ- बीवी को सी.एम. बनवाओ

●मोटी अकल मन्दमति होई- मोटी भैंस दूध अति होई

●अकल इश्क़ कर कर के रोये- भैंस का कोई बाँयफ्रेन्ड ना होये

●अकल तो ले मोबाइल घूमे- एस.एम.एस. पा पा के झूमे

●भैंस मेरी डायरेक्ट पुकारे- कबहूँ मिस्ड काल ना मारे

●भैंस कभी सिगरेट ना पीती- भैंस बिना दारू के जीती

●भैंस कभी ना पान चबाये - ना ही इसको ड्रग्स सुहाये

●शक्तिशालिनी शाकाहारी- भैंस हमारी कितनी प्यारी

●अकलमन्द को कोई ना जाने- भैंस को सारा जग पहचाने

●जाकी अकल मे गोबरहोये- सो इन्सान पटक सर रोये

●मंगल भवन अमंगल हारी- भैंस का गोबर अकल पे भारी

●भैंस मरे तो बनते जूते- अकल मरे तो पङते जूते.... !!

Motivational short stories in hindi

Mother and child inspiring story in hindi

" A child told the mother: “Mum you are very beautiful today.”
Replied the mother : “Why?”
The child said : “ Because you did not get angry today .”
Moral of the story:
1. It is easy to possess beauty:- do not get angry.
2. Anger is temporary madness.

GOOD DEEDS  Inspirational Story of Success

A man attended an interview for a job.
Along the corridor, he picked up a piece and threw it into a dustbin.
The interviewer passed by and saw it.
This man got the job.
Moral of the story:
Live with good habits, and you will be recognised.

Short Inspirational Story Hardworking Guy

A small boy worked as an apprentice in a bicycle shop.
A man sent a bicycle for repair.
After repairing the bicycle, this boy cleaned up the bicycle and it looked like a new one.
Other apprentices laughed at him for doing redundant work.
The second day after the owner claimed the bicycle back, this boy was pinched and offered a job.
Moral of the story :
1.Go the extra mile to be successful.
2. Doing more gains more & Doing less loses more.

The owner of a farm asked his child to work everyday at the farm.
His friend said to him : “ You do not have to make your son work so hard. The crops would grow just as good.”
Owner of the farm replied: “ I am not cultivating my crops, but my child.”
Moral of the story:
1. A simple way to groom a child is to let him experience some hardships.
2. If not cut, jade would not turn into useful ware.

A shop is always brightly lit up.
Someone asked : “What brand of bulb are you using ? It is so lasting.”
The shop owner replied : “Our bulbs blew out frequently. We replaced them once a bulb blew out.”
Moral of the story:
1. It is simple to maintain brightness , change the bulbs regularly.
2. To brightening up everyday life : Endeavour to abandon unwholesome states of mind and make an effort to encourage wholesome states to grow"

Inspirational hindi story to think wisdomely

Inspirational story in Hindi to keep patience


एक प्यारे से couple को करीब 10 साल बाद एक बच्ची हुई, वो सभी आपस में खुश थे, एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे. और बच्ची तो उनकी दुलारी थी.

एक सुबह, जब बच्ची करीब कुछ दो सालो की थी, तो पति ने टेबल पर एक बोतल देखि जिसका ढ़क्कन खुला हुआ था. वो काम के लिए late हो रहा था. इसलिए उसने पत्नी को बोतल का ढ़क्कन लगाने और उसे अलमारी में रखने के लिए कह कर चला गया.

पत्नी जो की kitchen में अपने काम में busy थी. वो भूल ही गयी. उसका ध्यान नहीं गया.

छोटी लड़की ने उस बोतल को देखा और खेल खेल में उसके पास जाकर उसे उठा लिया. उसके रंगीन रंग को देख कर खुश होते हुए उससे खेलने लगी. और उसे पूरा पी गयी…

वो बोतल एक दवा की थी, जो adults के लिए वो भी कम dosages के लिए थी. उस दवा से बच्ची की हालत बहुत ख़राब हो गयी. दवा जहर की तरह असर कर रही थी. क्योंकि उसका छोटा सा शरीर सह नहीं पा रहा था..

जब उसकी माँ ने यह देखा तो वो तुरंत उसे अस्पताल ले गयी, जहाँ उसकी मृत्यु हो गयी..

उसकी माँ बहुत ही डर गयी, और सदमे में आ गयी. वो अपने पति का सामना कैसे करेगी..

खबर पाते ही, पति जब आये और अपनी बच्ची को इस हालत में देखा तो वो सह नहीं पाए, उन्हें दर्द हुआ. उन्होंने अपनी पत्नी की तरफ नजर उठा के देखा, वो सहमी हुई थी, और कहा, “ मैं तुम्हे बहुत ही ज्यादा चाहता हूँ.” और पत्नी को गले लगाकर उसे सहारा दिया, अपने बच्चे को खोने के गम में वो बिलख पड़ी…

पति के ऐसे reaction की उम्मीद नहीं थी, पर उसके मन में बस एक बात आई. अगर वो खुद ही बोतल बंद कर देता तो, और अपनी पत्नी, जिसने अभी अभी अपनी मासूम सी बच्ची खोयी है, उसे दिलासे की जरुरत है, आरोप-प्रत्यारोप से कुछ नहीं होने वाला था…

उसने वो किया जो समय और स्तिथि के अनुरूप था.

Message of  the  story  in hindi

कई बार हमारे जीवन में भी ऐसे पल आ जाते है, जब हम आसानी से किसी पर अपना काम थोप देते है, जबकि हम स्वयं ही उन्हें करने के काबिल हैं. हम दूसरो पर असफ़लता का ठीकरा भी फोड़ देते है

posts You May Like

Jokes Categories